14 March, 2022

द कश्मीर फाइल्स हिंदी मूवी रिव्यु : कश्मीरी पंडितों की दर्दनाक दास्तान | The Kashmir Files movie Review in Hindi

The Kashmir Files Movie Review Hindi: पुरे भारत वर्ष में कोई भी मुद्दे पर कोई चर्चा नहीं करता, और चर्चा करना भी नही चाहता उसी घटना के बारे में कोई सुनना नहीं चाहता वैसी अनहद प्यारी और विवेचक विषय पर विवेक रंजन अग्निहोत्री ने फिल्म बनाई है जिसका नाम है (The Kashmir Files movie Review Hindi) द कश्मीर फाइल्स |




The Kashmir Files Movie Review Hindi: अभी अभी रिलीज़ हुयी फिल्म (The Kashmir Files) द कश्मीर फाइल्स, कश्मीर ने हिन्दू और कश्मीरी पंडितों की हत्या, बलात्कार और कश्मीर से पलायन के बारे में एक-एक सच्चाई को – एक एक सच्ची घटना को दर्शानेवाली साथ साथ हरदिन की लोगो की तकलीफों को बयां करने वाली फिल्म द कश्मीर फाइल्स The Kashmir Files देश के लिए अब एक बड़ा मुद्दा बन गई है, अभी अभी भारत भर के सिनेमाहॉल्स में रिलीज हुई मशहूर विवेक अग्निहोत्री की फिल्म द कश्मीर फाइल्स (The Kashmir Files Movie Review Hindi) फिल्म सब से ज़्यादा कमाई कर चुकी है, पुरे कश्मीर में यह एक ऐसा मुद्दा है, जो जिसे सोचकर,सुनाकर, या पढ़कर या पढाकर कश्मीरी हिन्दुओं के दर्द को अन्दर से समझा नहीं जा सकता था, मशहूर फिल्म निर्माता विवेक अग्निहोत्री ने भारत के निम्न स्तर के क्रूर समाज और अलगाववादी मानसिकता वाले लोगों के क्रूर भाव से भरे चेहरे को देश की जनता के सामने पेश करने की जबरजस्त हिम्मत दिखाई है। द कश्मीर फाइल्स (The Kashmir Files Movie Review Hindi) हर भारतीय नागरिक को देखनी चाहिए ।

(The Kashmir Files) द कश्मीर फाइल्स की अंदरूनी कहानी क्या है ये तो सबभारतीय नागरिक को मालूम है, भारत वर्ष के गर्वित इतिहास के पन्नों में लिखने के बदके जिस भयावह घटना को जानबूझ कर यह इतिहास को दबाने की कोशिश की गई, द कश्मीर फाइल्स फिल्म देखने के बाद लोग उस दर्द, उस जुल्म सहते कश्मीरी हिन्दुओं की जगह खुद को महसूस करते हैं। द कश्मीर फाइल्स फिल्म लोगों की भावना से हर्ड के लिए जुड़ गई है।

द कश्मीर फाइल्स फिल्म की हुबहू कहानी कश्मीर के एक नामांकित शिक्षक पुष्कर नाथ पंडित की जिंदगी के इर्द-गिर्द घूमती रहती है। कृष्णा दिल्ली से कश्मीर आता है, अपने दादा पुष्कर नाथ पंडित की आखिरी इच्छा पूरी करने के लिए, कृष्णा अपने दादा के जिगरी दोस्त ब्रह्मा दत्त के यहां रहने की व्य्वश्था करता है। उस समय पुष्कर के अन्य जिगर जान मित्र भी कृष्णा से मिलने आते हैं। इसके बाद फिल्म फ्लैशबैक में जाती है। द कश्मीर फाइल्स में 1990 से पहले भारत का अभिन्न अंग कश्मीर कैसा था. इसके बाद 1990 में कश्मीरी पंडितों को मिलने वाली धमकियों, परेशानियाँ और जबरन कश्मीर और अपना घर छोड़कर जाने वाली उनकी पीड़ादायक कहानी को दर्शाया जाता है।

The Kashmir Files द कश्मीर फाइल्स में कास्ट – अनुपम खेर (Anupam Kher), पल्लवी जोशी (Pallavi Joshi), मिथुन चक्रवर्ती (Mithun Chakraborty), दर्शन कुमार (Darshan Kumar), चिन्मय मंडलेकर (Chinmaya Mandlekar), पुनीत इस्सर (Punit Issar), मृणाल कुलकर्णी (Mrunal Kulkarni) ने निभाया है ।



The Kashmir Files द कश्मीर फाइल्स भारत के कश्मीरी पंडितों के दर्द को हुबहू बयां करती है ‘द कश्मीर फाइल्स’, फिल्म देखने जे बाद दर्शक बोलते है की सदियों तक याद रहेगी अनुपम खेर की एक्टिंग जो सच्चा काश्मीरी पंडित का रोल निभाया है ।

1 comment:

  1. Anonymous10:41 AM

    Informative article related to The Kashmir Files

    ReplyDelete